Main Hoon Prem Rogi- Prem Rog| Suresh Wadker Evergreen Hits – Old is Gold songs

Song: Main Hoon Prem Rogi
Movie: Prem Rog (1982)
Artist: Suresh Wadker
Music Director: Laxmikant Pyarelal
Actor: Padmini Kolhapure, Rishi Kapoor, Lyricist: Narendra Sharma

Main Hoon Prem Rogi: Download

 

Download

To Download the MP3 version of ‘Main Hoon Prem Rogi‘ , click and select the ‘Save As’ option in your location to download this song.

Lyrics

अरे कुछ नहीं कुछ नहीं
अरे कुछ नहीं कुछ नहीं
फिर कुछ नहीं भाता
जब रोग ये लग जाता
मैं हूँ प्रेम रोगी
मैं हूँ प्रेम रोगी
मेरी दवा तो करा ो
मैं हूँ प्रेम रोगी
मेरी दवा तो करा ो
जाओ जाओ किसी वैद्य को बुलाओ
मैं हूँ प्रेम रोगी
फिर कुछ नहीं भाता
जब रोग ये लग जाता
मैं हूँ प्रेम रोगी
मेरी दवा तो करा ो
मैं हूँ प्रेम रोगी सोच रहा हूँ जग क्या होता
सोच रहा हूँ जग क्या होता
इसमें अगर ये प्या न होता
मौसम का एहसास न होता
गुल गुलशन गुलज़ार न होता
होने को कुछ भी होता पर
होने को कुछ भी होता पर
ये सुन्दर संसार न होता
मेरे इन खयालों में
मेरे इन खयालों में
तुम भी डूब जाओ
मेरे इन खयालों में
तुम भी डूब जाओ
जाओ जाओ किसी वैद्य को बुलाओ
मैं हूँ प्रेम रोगी यारो है वो किस्मत वाला
प्रेम रोग जिसे लग जाता है
सुख दुःख का उसे होश नहीं नै
अपनी लौ मैं राम जाता है
हर पल खुद ही खुद हस्ता है
हर पल खुद ही खुद रोता है
ये रोग लाईलाज सही
फिर भी कुछ कराओ
ओ जाओ जाओ जाओ
अरे जाओ जाओ जाओ
मेरे वैद को बुलाओ
मेरा इलाज कराओ
और नहीं कोई तोह
मेरे यार को बुलाओ
ओ जाओ जाओ जाओ
मेरे दिलदार को बुलाओ
मैं हूँ प्रेम रोगी
मेरी दवा तो कराओ
मैं हूँ प्रेम रोगी.

DOWNLOAD HERE

To Download the MP3 version of ‘Yeh Galiyan Yeh Chaubara‘, click and select the ‘Save As’ option in your location to download this song.

Lyrics

Are kuchh nahi kuchh nahi
Are kuchh nahi kuchh nahi
Phir kuchh nahi bhata
Jab rog ye lag jata
Main hun prem rogi
Main hun prem rogi
Meri dava to kara o
Main hun prem rogi
Meri dava to kara o
Jao jao kisi vaid ko bulao
Main hun prem rogi
Phir kuchh nahi bhata
Jab rog ye lag jata
Main hun prem rogi
Meri dava to kara o
Main hun prem rogi Soch raha hun jag kya hota
Soch raha hun jag kya hota
Isme agar ye pya na hota
Mausam ka ehsas na hota
Gul gulshan gulzaar na hota
Hone ko kuchh bhi hota par
Hone ko kuchh bhi hota par
Ye sundar sansar na hota
Mere in khayalo main
Mere in khayalo main
Tum bhi dub jaao
Mere in khayalo main
Tum bhi dub jaao
Jaao jaao kisi vaid ko bulao
Main hun prem rogi Yaaro hai wo kismat wala
Prem rog jise lag jata hai
Sukh dukh ka use hosh nahi nai
Apni lau main ram jata hai
Har pal khud hi khud hasta hai
Har pal khud hi khud rota hai
Ye rog lailaaj sahi
Phir bhi kuchh karao
O jaao jaao jaao
Are jaao jaao jaao
Mere vaid ko bulao
Mera ilaaj karao
Aur nahi koi toh
Mere yaar ko bulao
O jaao jaao jao
Mere dildar ko bulao
Main hun prem rogi
Meri dava to karao
Main hun prem rogi.

Leave a Reply

Your email address will not be published.